Home > मुख्य ख़बरें > CM योगी का चला 'डंडा', अनुशासनहीनता के आरोपों में जिला विकास अधिकारी निलंबित

CM योगी का चला 'डंडा', अनुशासनहीनता के आरोपों में जिला विकास अधिकारी निलंबित

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने अनुशासनहीनता के आरोपों में संभल (Sambhal) के जिला विकास अधिकारी राम सेवक को निलंबित करने का आदेश दिया है. शनिवार को मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना करने, आईजीआरएस अंतर्गत रिपोर्ट प्रेषित न करने और बिना अनुमति जनपद मुख्यालय से बाहर जाने सहित अनुशासनहीनता के विभिन्न आरोपों में जिला विकास अधिकारी (संभल) को निलंबित करने का आदेश दिया है.’

नोट : सेकुलरिज्म के चक्कर में टीवी मीडिया आपसे कई महत्वपूर्ण ख़बरें छिपा लेता है, फेसबुक और ट्विटर भी अब वामपंथी ताकतों के गुलाम बनकर राष्ट्रवादी ख़बरें आप तक नहीं पहुंचने दे रहे. ऐसे में यदि आप सच्ची व् निष्पक्ष ख़बरें पढ़ना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करके Bharti News App अपने फ़ोन में इनस्टॉल करें.

एक बयान के मुताबिक राम सेवक पर उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना करने, आईजीआरएस अंतर्गत रिपोर्ट प्रेषित न करने, अधीनस्थों से अभद्रता करने और अनुमति के बगैर जनपद मुख्यालय से बाहर जाने सहित अनुशासनहीनता और स्वेच्छाचारिता के अनेक आरोप प्रथमदृष्ट्या सिद्ध हुए हैं. जवाब मांगे जाने पर भी आरोपी अधिकारी ने जवाब नहीं दिया. इससे पूर्व की तैनाती के दौरान भी राम सेवक के खिलाफ मनमानी करने के कई मामले सामने आए हैं.



मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसे गंभीरता से लेते हुए राम सेवक को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का आदेश दिया है. प्रकरण की गहन जांच के लिए बरेली मंडल के संयुक्त विकास आयुक्त को जांच अधिकारी नामित किया गया है. (भाषा से इनपुट)

App download

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुडी सभी ख़बरें सीधे अपने मोबाईल पर पाने के लिए Bharti News App डाउनलोड करें.


loading...