Home > मुख्य ख़बरें > पंजाब से आई बारात का दिल्‍ली में चालान से हुआ स्‍वागत, दूल्हे की जेब से गए 2000 रुपए

पंजाब से आई बारात का दिल्‍ली में चालान से हुआ स्‍वागत, दूल्हे की जेब से गए 2000 रुपए

नई दिल्‍ली. पंजाब से दिल्‍ली आई एक बारात का राजधानी में घुसते ही चालान से स्‍वागत हुआ. कार में बैठकर आए दूल्‍हे और बारातियों के दिल्‍ली में कोरोना को लेकर बनाए गए नियमों का पालन न करने पर दो हजार रुपये का चालान काट दिया गया. इस दौरान बाराती और दूल्‍हा लगातार चालान न काटने की मांग करते रहे.

नोट : सेकुलरिज्म के चक्कर में टीवी मीडिया आपसे कई महत्वपूर्ण ख़बरें छिपा लेता है, फेसबुक और ट्विटर भी अब वामपंथी ताकतों के गुलाम बनकर राष्ट्रवादी ख़बरें आप तक नहीं पहुंचने दे रहे. ऐसे में यदि आप सच्ची व् निष्पक्ष ख़बरें पढ़ना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करके Bharti News App अपने फ़ोन में इनस्टॉल करें.

जानकारी के मुताबिक पंजाब से दूल्‍हे को लेकर बारातियों की इनोवा कार दिल्‍ली पहुंची थी. बारात को पांडव नगर जाना था. तभी गीता कॉलोनी एसडीएम दफ्तर के पास विभाग की नजर कार पर पड़ी. आगे की सीट पर बैठे दूल्‍हे ने मास्‍क नहीं लगाया हुआ था. वहीं पीछे की सीट पर तीन लोगों की जगह होती है लेकिन वहां चार महिलाएं बैठी हुई थीं. इन्‍होंने भी मास्‍क नहीं पहने थे.

इस पर गाड़ी को रुकवाकर सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन न करने और मास्‍क न लगाने को लेकर दूल्‍हे की गाड़ी का दो हजार रुपये का चालान कर दिया गया. हालांकि चालान के दौरान दूल्‍हा और बाराती मजबूरी गिनाते रहे. इतना ही नहीं चालान होने के बाद दूल्‍हे ने मुंह पर रूमाल बांध लिया.



चालान होने के बाद का के ड्राइवर ने बताया कि पंजाब से बारात निकली थी तो दो गाड़ि‍यां थीं लेकिन दूसरी गाड़ी खराब होने के बाद कुछ सवारियों को इस गाड़ी में बैठा लिया था.
बता दें कि दिल्‍ली में मास्‍क न लगाने पर अब दो हजार रुपये का चालान किया जा रहा है. पहले यह राशि पांच सौ रुपये थी. कोरोना के बढ़ते मामलों के साथ ही मास्‍क को लेकर लोगों की लापरवाही को देखते हुए दिल्‍ली सरकार ने चालान की राशि बढ़ाने का कदम उठाया है. मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों से मास्‍क पहनने की अपील भी की है.

App download

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुडी सभी ख़बरें सीधे अपने मोबाईल पर पाने के लिए Bharti News App डाउनलोड करें.


loading...