Home > मुख्य ख़बरें > वाराणसी में एनकाउंटर: 50 हजार का इनामी बदमाश ढेर, दो पुलिसकर्मी घायल

वाराणसी में एनकाउंटर: 50 हजार का इनामी बदमाश ढेर, दो पुलिसकर्मी घायल

वाराणसी: ताबड़तोड़ वारदातों पर लगाम लगाने के लिए एसएसपी की कोशिश रंग लाई है। वाराणसी पुलिस ने पिछले कुछ दिनों से दहशत का पर्याय बने मोनू चौहान नाम के एक शातिर अपराधी को सारनाथ इलाके में मुठभेड़ में मार गिराया।

नोट : सेकुलरिज्म के चक्कर में टीवी मीडिया आपसे कई महत्वपूर्ण ख़बरें छिपा लेता है, फेसबुक और ट्विटर भी अब वामपंथी ताकतों के गुलाम बनकर राष्ट्रवादी ख़बरें आप तक नहीं पहुंचने दे रहे. ऐसे में यदि आप सच्ची व् निष्पक्ष ख़बरें पढ़ना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करके Bharti News App अपने फ़ोन में इनस्टॉल करें.

इस दौरान मोनू का एक साथी फरार होने में कामयाब रहा। मुठभेड़ में दो पुलिसवाले भी जख्मी हुए हैं। दोनों को एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है।

घड़ी कारोबारी की हत्या में वांछित था मोनू

दीपावली के पहले पहाड़िया इलाके में एक घड़ी व्यापारी के साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया गया था। लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने व्यापरी को गोली मार दी थी। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। पुलिस ने जब इस मामले की तफ्तीश शुरू की तो सनी गिरोह के मोनू चौहान का नाम सामने आया। पुलिस ने उसके ऊपर पचास हजार रूपये का इनाम रखा था।

वारदात को अंजाम देने के फिराक में थे बदमाश

एसएसपी अमित पाठक के अनुसार रविवार की रात मोनू अपने एक साथी के साथ किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए निकला था। इसी दौरान पुलिस को सूचना मिल गई। पुलिस ने सारनाथ क्षेत्र के रिंगरोड के पास उसकी घेरा बंदी कर ली। पुलिस को देखते ही मोनू ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी गोलियां चलाई। मुठभेड़ में जख्मी मोनू चौहान को इलाज के लिए कबीर चौरा अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां कुछ देर के इलाज के बाद उसकी सांसें थम गईं।

App download

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुडी सभी ख़बरें सीधे अपने मोबाईल पर पाने के लिए Bharti News App डाउनलोड करें.


loading...